14
Sep,2019

14 Sep 2019

राजस्थान मध्य प्रांत "युवा एवं महाविद्यालय के विद्यार्थियों" के लिए इस सत्र से एक नया प्रकल्प अन्तर्महाविद्यालय वाद-विवाद प्रतियोगिता का शुभारंभ कर रहा हैं। आज राष्ट्रीय उपाध्यक्ष एवं रीजनल चेयरमैन श्रीमान् शांतिलाल जी पनगड़िया, राष्ट्रीय मंत्री श्रीमान् मुकन सिंह जी राठौड़, प्रांतीय अध्यक्ष श्रीमान् कैलाश जी अजमेरा, प्रांतीय उपाध्यक्ष-संस्कार श्रीमान् पारसमल जी बोहरा व प्रांतीय सह-संयोजक श्रीमति किरण जी सेठी की गरिमामयी उपस्थिति व मार्गदर्शन में अन्तर्महाविद्यालय वाद-विवाद प्रतियोगिता प्रकल्प का शुभारंभ किया गया। ➡यह प्रतियोगिता दो चरणों में आयोजित की जाएगी।प्रथम चरण शाखा स्तर पर महाविद्यालयों में और द्वितीय चरण प्रांत स्तर पर आयोजित होगी, जिसमें प्रत्येक शाखा से एक प्रतियोगी दल (पक्ष एवं विपक्ष) भाग लेगा। ➡ शाखा स्तरीय प्रतियोगिता 1 अक्टूबर से 30 दिसंबर के मध्य शाखा अपनी सुविधानुसार आयोजित करावें और प्रांत स्तरीय प्रतियोगिता 12 जनवरी 2020 को प्रस्तावित हैं। ➡ प्रतियोगिता संबंधी विस्तृत दिशानिर्देश, नियमावली एवं प्रपत्र के प्रारूप सभी शाखाओं के दायित्वधारियों को प्रेषित कर दिये जायेंगे। प्रतियोगिता प्रांतीय युवा एवं बाल संस्कार संयोजक श्री राजेश जी सोनी (M-9462321155) व सहसंयोजक श्रीमति किरण जी सेठी (M-7597455813) के निर्देशन में आयोजित होगी।

28
Aug,2019

28 Aug 2019

राजस्थान मध्य प्रांत ने आज एक ओर नया स्वर्णिम इतिहास रचा, जब प्रांतीय संयोजक श्री मुकेश जी लाठी के नेतृत्व में शाखाओं के दायित्वधारियों और सदस्यों के सहयोग व केंद्रीय एवं रीजनल दायित्वधारियों के मार्गदर्शन से 34 शाखाओं के द्वारा 687 विद्यालयों में 14,770 पुस्तकों के वितरण के साथ 1,17,180 विद्यार्थियों के मध्य भारत को जानो लिखित प्रतियोगिता का आयोजन किया गया। आज की लिखित प्रतियोगिता की विशेषता यह रही कि प्रांत की 8 शाखाओं में 5000 से अधिक विद्यार्थीयों ने भाग लिया और प्रतियोगिता के आयोजन में परिषद के सदस्यों की सक्रियता का ही परिणाम है कि 100000 विद्यार्थियों के लक्ष्य को सफलता पूर्वक पूर्ण किया।

25
Aug,2019

25 Aug 2019

आज दिनांक 25 अगस्त 2019 को भारत विकास परिषद अजमेर द्वारा राजस्थान मध्य प्रांत की प्रांतीय महिला कार्यशाला "संयोगिता" का आयोजन लायंस भवन मानसरोवर वैशाली नगर अजमेर में किया गया । कार्यक्रम की शुरुआत दीप प्रज्वलन व सामूहिक वंदे मातरम के साथ की गई। इस कार्यशाला में भीलवाड़ा, राजसमंद एवं अजमेर जिले की 153 से अधिक भारत विकास परिषद की महिला सदस्यों ने भाग लिया। उद्घाटन सत्र में प्रांतीय संयोजिका महिला जागरूकता डॉक्टर कमला गोखरू ने स्वागत एवं परिचय उद्बोधन दिया ।कार्यशाला का उद्देश्य एवं आवश्यकता पर रीजनल मंत्री श्रीमती पूर्णा जी पारीक ने प्रकाश डाला। कार्यक्रम की अध्यक्षता राष्ट्रीय उपाध्यक्ष एवं रीजनल अध्यक्ष श्रीमान शांतिलाल जी पनगढ़िया ने की, उन्होंने भारत विकास परिषद में महिला सहभागिता की उपयोगिता पर विस्तृत चर्चा एवं मार्गदर्शन दिया । मुख्य वक्ता व इग्नू की काउंसलर डॉ सुमन बाला ने महिला जागरूकता एवं पर्यावरण पर संदेश दिया। मुख्य अतिथि श्रीमान मालचंद जी गर्ग, राष्ट्रीय मंत्री ने भी मार्गदर्शन प्रदान किया । द्वितीय सत्र में अमृता जी उपाध्याय, प्रांतीय संयोजिका संस्कृति सप्ताह ने एक कदम महिला जागरूकता की ओर विषय पर विस्तार से चर्चा की, श्रीमती भारती मोदानी, प्रांतीय संयोजक ने अभिरुचि शिविर व बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ पर अपने विचार प्रकट किए, श्रीमती अर्पिता गोयल प्रांतीय सह संयोजिका ने संस्कृति सप्ताह पर अपना उद्बोधन दिया एवं श्रीमती प्रतिभा कोठारी प्रांतीय सह संयोजिका महिला जागरूकता ने संयुक्त परिवार की महत्ता पर प्रकाश डाला । प्रांतीय महिला प्रमुख श्रीमती गुणमाला अग्रवाल ने प्रांतीय प्रतिवेदन प्रस्तुत कर कार्यशाला की उपयोगिता पर विस्तृत चर्चा की । इसी कार्यशाला के दौरान प्रांतीय महासचिव सीए संदीप बाल्दी ने अजमेर शहर से नए बने विकास रत्न डॉक्टर कमला गोखरू एवं 16 विकास मित्रों के नाम की घोषणा की गई, जिन्हें राष्ट्रीय कार्यकारिणी व प्रांतीय अध्यक्ष कैलाश अजमेरा द्वारा सम्मानित किया गया। इस मौके पर भारत विकास परिषद अजमेर मुख्य शाखा के अध्यक्ष अशोक गोयल, सचिव विनोद पाठक, आदर्श शाखा के अध्यक्ष दिलीप दुबे, सचिव राधेश्याम वर्मा, युवा शाखा के अध्यक्ष तरुण मनावत सचिव अनुज गर्ग एवं शहर समन्वयक रामचंद्र शर्मा आदि गणमान्य सदस्य गण उपस्थित रहे । कार्यशाला के अंत में महिला प्रमुख श्रीमती भारती कुमावत ने सभी आगंतुकों का आभार व्यक्त किया।